Advertisement

Hindi Pushp

इतिहास के पन्ने: राहुल सांकृत्यायन को पढ़ना क्यों ज़रूरी है? (Interview)

#rahulsankrityan #indianhistory #newsclick भारत के महान् बुद्धिजीवी राहुल सांकृत्यायन (1893-1963) को गुज़रे 60 साल हो गए। वे 30 से भी ज़्यादा भाषाओँ के ज्ञानी थे लेकिन उन्होंने मूलतः हिंदी में ही लिखा। लगभग सवा सौ पुस्तकों के लेखक-अनुवादक-संपादक और महापंडित...
No data was found
No data was found

Get our Newsletter and e-Paper

Popular in Hindi Pushp

इतिहास के पन्ने: राहुल सांकृत्यायन को पढ़ना क्यों ज़रूरी है? (Interview)

इतिहास के पन्ने: राहुल सांकृत्यायन को पढ़ना क्यों ज़रूरी है? (Interview)

Follow us on